तिलक वशीकरण मंत्र


तिलक वशीकरण मंत्र

Tilak Vashikaran Mantra




ॐ नमो आदेश गुरु को |

राजा मोहुँ |

प्रजा मोहुँ |

मोहुँ ब्राह्मण बनियाँ |

हनुमन्त ब्राह्मण बनियाँ |

हनुमन्त रूप मे जगत मोहूँ |

तो रामचन्द्र परमाणियाँ |

गुरु की शक्ति |

मेरी भक्ति |

फुरो मंत्र ईश्वरो वाचा |


इस मंत्र को सर्ववशीकरण मंत्र भी कहा जाता है यह वशीकरण मंत्र अक्सर हमारे कार्यस्थल के लिए ज्यादा असरदार रहता है पर अगर चाहे तो किसी भी लड़के या लड़की के वशीकरण के लिए भी उपयोग कर सकते है |

शनिवार के दिन सिन्दूरी हनुमान जी की प्रतिमा का पूजन करें और उन्हें सिन्दूर और चोला चढ़ाएं | इसके बाद इस तिलक वशीकरण मंत्र की एक माला (108 बार ) जाप करें | इस तिलक वशीकरण मंत्र का जाप आपको 21 दिनों तक लगातार करना है | उसके बाद जब भी जब आवश्यकता हो यह मंत्र जाप करते हुए किसी चौराहे से मिटटी उठा लें और यह मंत्र एक बार बोलते हुए उस मिटटी का भाले के आकार का टीका लगाकर अभिलाषित व्यक्ति के समक्ष जायें तो वह आपकी हर बात मानेगा और कभी भी आपके खिलाफ नहीं जायेगा |

Tilak Vashikaran Mantra

This mantra is also called Sarvashakikaran Mantra This Vashikaran mantra is often more effective for our workplace, but if you want, you can also use it to captivate any boy or girl.

On Saturday, worship the idol of Sindhuri Hanuman and offer them vermilion and chola. After this, chant a garland (108 times) of this Tilak Vashikaran mantra. You have to chant this Tilak Vashikaran Mantra continuously for 21 days. After that whenever you need, pick up the soil from any intersection while chanting this mantra use the soil and mark a spear-shaped spot on your forehead then go in front of the person then he or she will always listen to you and never go against you.

Comments